शुक्र वैदिक मंत्र 

ऊँ अन्नात्परिस्रुतो रसं ब्रह्मणा व्यपिबत क्षत्रं पय: सेमं प्रजापति: ।
 

शुक्र तांत्रिक मंत्र

ऊँ ह्रीं श्रीं शुक्राय नम:
ऊँ द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम:
ऊँ वस्त्रं मे देहि शुक्राय स्वाहाशुक्र एकाक्षरी बीज मंत्र ||
 

शुक्र बीज मंत्र

ऊँ शुं शुक्राय नम:
 

शुक्र का पौराणिक मंत्र

ऊँ हिमकुन्दमृणालाभं दैत्यानां परमं गुरुम सर्वशास्त्रप्रवक्तारं भार्गवं प्रणमाम्यहम ।।
 
 

शुक्र गायत्री मंत्र 

“ॐ भृगुराजाय विद्महे दिव्य देहाय धीमहि तन्नो शुक्र प्रचोदयात्” ।।

 

शुक्र ग्रह के मंत्र
शुक्र ग्रह के मंत्र


Leave a Comment

1 Shares
Share
Tweet
Share
Pin1