“मैं तो वैरागी हूँ , न सम्मान का मोह , न अपमान का भय।”

“मैं तो वैरागी हूँ  , न सम्मान का मोह , न अपमान का भय।” मैं तो बैरागी हूँ न सन्मान का मोह न अपमान का भय ,जो मैं हूँ वो मैं नहीं हूँ ,और जो मैं नहीं हूँ वो ही मैं हूँ,मैं आदि हूँ मैं ही अनंत हूँ, जब तक तुम जीवित हो मैं तो … Read more