श्री दुर्गा स्तुति || Shri Durga Stuti || Devi Durga Stuti

श्री दुर्गा स्तुति || Shri Durga Stuti || Devi  Durga Stuti हे सिंहवाहिनी, शक्तिशालिनी, कष्टहारिणी माँ दुर्गे। महिषासुरमर्दिनि, भव भय भंजनि, शक्तिदायिनी माँ दुर्गे। तुम निर्बल की रक्षक, भक्तों का बल विश्वास बढ़ाती हो दुष्टों पर बल से विजय प्राप्त करने का पाठ पढ़ाती हो। हे जगजननी, रणचण्डी, रण में शत्रुनाशिनी माँ दुर्गे। जग के … Read more