Ganpati ji ki Aarti -गणपति जी की आरती

गणपति जी की आरती ( Ganpati ji ki Aarti ) गणपति की सेवा मंगल मेवा सेवा में सब विघ्न टरे । तीन  लोक तैंतीस  देवता द्वार खड़े सब अर्ज़ करें ।। रिद्धि सिद्धि दक्षिण बाम विराजे आनंद सौं शहर चंवर डूरें ।  धूप दीप और लिए आरती भक्त खड़े जय कार करें ।। गुड़ के … Read more