श्री बटुक भैरव अष्टोत्तर शतनामावली || Batuk Bhairav Ashtottara Shatanamavali

श्री बटुक भैरव अष्टोत्तर शतनामावली || Shri Batuk Bhairav Ashtottara Shatanamavali ।। पूर्व-पीठिका ।। मेरु-पृष्ठ पर सुखासीन, वरदा देवाधिदेव शंकर से – पूछा देवी पार्वती ने, अखिल विश्व-गुरु परमेश्वर से । जन-जन के कल्याण हेतु, वह सर्व-सिद्धिदा मन्त्र बताएँ – जिससे सभी आपदाओं से साधक की रक्षा हो, वह सुख पाए । शिव बोले, आपद्-उद्धारक … Read more