माँ कुष्मांडा देवी स्तोत्र || Kushmanda Devi Stotra

माँ कुष्मांडा देवी स्तोत्र || Maa Kushmanda Devi Stotra !! ध्यान !! वन्दे वांछित कामर्थे चन्द्रार्घकृत शेखराम्। सिंहरूढा अष्टभुजा कुष्माण्डा यशस्वनीम्॥ भास्वर भानु निभां अनाहत स्थितां चतुर्थ दुर्गा त्रिनेत्राम्। कमण्डलु चाप, बाण, पदमसुधाकलश चक्र गदा जपवटीधराम्॥ पटाम्बर परिधानां कमनीया कृदुहगस्या नानालंकार भूषिताम्। मंजीर हार केयूर किंकिण रत्‍‌नकुण्डल मण्डिताम्। प्रफुल्ल वदनां नारू चिकुकां कांत कपोलां तुंग … Read more