माता कालरात्रि देवी कवच | Mata Kaalratri Kavach

माता कालरात्रि देवी कवच || Mata Kaalratri Devi Kavach || Mata Kaalratri Kavach ।।  कवच ।। ॐ क्लींमें हदयंपातुपादौश्रींकालरात्रि। ललाटेसततंपातुदुष्टग्रहनिवारिणी॥ रसनांपातुकौमारी भैरवी चक्षुणोर्मम कहौपृष्ठेमहेशानीकर्णोशंकरभामिनी। वíजतानितुस्थानाभियानिचकवचेनहि। तानिसर्वाणिमें देवी सततंपातुस्तम्भिनी॥ Maa Kaalratri Kavacham

Kali Mata ki Aarti | काली माता की आरती

काली माता की आरती – Kali Mata ki Aarti अम्बे तू है जगदम्बे काली, जय दुर्गे खप्पर वाली |  माँ काली  आरती  तेरे ही गुण गायें भारती, ओ मैया हम सब उतारें तेरी आरती ||   तेरे भक्त जनों पे माता, भीर पड़ी है भारी | दानव दल पर टूट पडो माँ, करके सिंह सवारी … Read more