Maa Brahmacharini Ki Aarti || माँ ब्रह्मचारिणी की आरती ||

  जय अंबे ब्रह्माचारिणी माता। जय चतुरानन प्रिय सुख दाता।  ब्रह्मा जी के मन भाती हो। ज्ञान सभी को सिखलाती हो। ब्रह्मा मंत्र है जाप तुम्हारा। जिसको जपे सकल संसारा। जय गायत्री वेद की माता। जो मन निस दिन तुम्हें ध्याता। Read Also : Maa Brahmacharini Devi Stotra कमी कोई रहने न पाए। कोई भी … Read more

माता ब्रह्मचारिणी देवी कवच || Brahmacharini Kavacham

माता ब्रह्मचारिणी देवी कवच || Mata Brahmacharini Devi Kavach || Brahmacharini Kavacham ॥ कवच ॥ त्रिपुरा में हृदयेपातुललाटेपातुशंकरभामिनी। अर्पणासदापातुनेत्रोअर्धरोचकपोलो॥ पंचदशीकण्ठेपातुमध्यदेशेपातुमहेश्वरी॥ षोडशीसदापातुनाभोगृहोचपादयो। अंग प्रत्यंग सतत पातुब्रह्मचारिणी॥ Brahmacharini Kavacham